समर्थक

गुरुवार, 3 जनवरी 2013

क्यों पीछे पछताया !


नन्ही चिड़िया देर से जागी,
जाना था स्कूल ,
जल्दी जल्दी बैग उठाया ,
गई वो पुस्तक भूल .


क्लास में मैडम उससे बोली
चलो सुनाओ पाठ ,
नन्ही चिड़िया रोकर बोली
पुस्तक भूली आज .


 मैडम ने फिर पास बुलाकर
प्यार से था समझाया ,
काम करो सब सोच समझकर
क्यों पीछे पछताया !


 नन्ही चिड़िया ने रखी
मैडम की सीख ये याद ,
देती है वो बहुत बहुत
मैडम को धन्यवाद !
                      शिखा कौशिक 'नूतन'

4 टिप्‍पणियां:

Shalini kaushik ने कहा…

very nice

Chaitanyaa Sharma ने कहा…

बहुत प्यारी कविता

राहुल ने कहा…

एक नन्ही चिड़ियाँ के लिए ये कविता हमने चुरा ली है....आपको बुरा तो नहीं लगेगा न ?

राहुल ने कहा…

एक नन्ही चिड़ियाँ के लिए ये कविता हमने चुरा ली है....आपको बुरा तो नहीं लगेगा न ?